शारीरिक सम्बन्ध बनाने के फायदे

शारीरिक सम्बन्ध एक अद्भुत अनुभव :

नमस्कार, रिलेसनशिप एक सुखद का अनुभव है. जिसमे अगर शारीरिक सम्बन्ध बनाया जाये तो उसके मजे बढ़ जाते हैं, क्योकि किसी मन पसंद पार्टनर के साथ नजदीकी प्यार तक जाना जन्नत जैसा महसूस होता है.आपको बता दें की शारीरिक सम्बन्ध दो इंसानो को एक दूसरे के नजदीक लता है जबकि शारीरिक सम्बन्ध में  मिलने वाले सुख के अपने ही अलग मजे हैं.

किसी के साथ बनाया गया शारीरिक सम्बन्ध आपके दिल और दिमाग में अपनी एक बिशेष जगह बना लेता है जिसमे रिश्ते में मजबूती आने के साथ अपनापन और गहरापन भी आता है  जबकि रिश्तो में नयेपन का एहसास भी करता है.शारीरिक सम्बन्ध हमको भावनात्मक रूप से जोड़ने के लिए उसके करीब होने का एहसास दिलाएगा तो वही होने वाले टेंशन  को भी झट से दूर करने का काम करता है

शारीरिक सम्बन्ध के फायदे :

1 : शारीरिक सम्बन्ध बनाने से हमको  नयी ऊर्जा मिलती है.जबकि इस दौरान आप दुनिया भर की सभी तनाव को भूलकर सुख का अनुभव प्राप्त करते है.शारीरिक सम्बन्ध बनाने सी समस्या भी दूर होती है.जबकि अगर आप हप्ते में तीन से चार बार शारीरिक सम्बन्ध बनाएंगे तो आपकी ख़ुशी अन्य लोगो से ज्यादा हो जाएगी।

2 : शारीरिक सम्बन्ध बनाने से आत्मा मनोबल में भी कई गुना वृद्धि हो जाती है.

शहरीरिक सम्बन्ध के बाद आपके रिश्तो में दूरियां समाप्त होकर नजदीकियां अधिक आ जाती है.

जबकि पर्सनली बात करने का तरीका भी बढ़ जाता है।

3 : आपकी जानकारी के लिए बता दें की शारीरिक सम्बन्ध दो आत्माओ का मीलन है.

शारीरिक सम्बन्ध के बाद आ आराम दायक महसूस करेंगे। जबकि शांत होने के साथ-साथ आपको अच्छी नीद आएगी।

4 : कई शोध से यह बात समने आयी है कई शोध से यह बात सामने आयी है

की शारीरिक सम्बन्ध बनाने से शरीर का रोग प्रतिरोधक छमता बढ़ जाती है जिससे कई छोटे-छोटे बीमारियों से बचाव होता है.

जबकि दिन भर का थकान मिटाने के लिए शारीरिक सम्बन्ध एक अच्छा एक्सरसाइज का काम  करता है।

5 : शारीरिक सम्बन्ध बनाने से रक्तचाप नियमित रहता है.

इससे पुरे शरीर में रक्त का प्रवाह सामान्य रूप से चलने लगता है।शारीरिक सम्बन्ध बेहद ब्यक्तिगत प्राकृतिक प्रक्रिया है

जिसकी आवस्यकता सभी को एक निश्चित अवस्था के बाद महसूस होती है।

सम्बन्ध बनाने के बाद जीवन में कई परिवर्तन आते हैं , जिसकी शुरुआत शारीरिक परिवर्तन से होती है।

जब लड़किया शरीरिक सम्बन्ध बनती है तो उनके ब्रेस्ट और हिप्स मेंपरिवर्तन आने लगता है,

और  आकर पहले से परिवर्तित हो जाता है, उनके मासिक धर्म का समय बदल जाता है

उनके दिमाग के कोशिकाओं में बृद्धि होने लगती है , और उनका दिमाग अधिक क्रियाशील  हो जाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *